Yaad Shayari || Teri Yaadon Se




Maine Rang Diya Har Panna Teri Yaadon Se,
Meri Kitabon Se Puchh Ishq Kise Kehte Hain.
मैंने रंग दिया हर पन्ना तेरी यादों से,
मेरी किताबो से पूछ इश्क किसे कहते हैं।


Teri Yaad Se Shuru Hoti Hai Meri Har Subah,
Phir Ye Kaise Kah Doon Ki Mera Din Kharab Hai.
तेरी याद से शुरू होती है मेरी हर सुबह,
फिर ये कैसे कह दूँ कि मेरा दिन खराब है।



Yaad Rahega Hamesha Yeh Dard-e-Hayaat Hamko Bhi,
Ki Kya Khoob Tarase The Zindagi Mein Ek Shakhs Ki Khaatir.
याद रहेगा हमेशा यह दर्द-ए-हयात हमको भी,
कि क्या खूब तरसे थे ज़िन्दगी में एक शख्स की खातिर।



Aapki Yaad Ki Khushboo Mere Daaman Se Lipti Hai,
Bada Achha Sa Lagta Hai Aapko Hi Sochtey Rehna.
आपकी याद की खुशबू मेरे दामन से लिपटी है,
बड़ा अच्छा सा लगता है आपको ही सोचते रहना।



Kitne Anmol Hote Hain Yeh Mohabbat Ke Rishte
Koi Yaad Na Bhi Kare To Chahat Fir Bhi Rehti Hai.
कितने अनमोल होते हैं यह मोहब्बत के रिश्ते
कोई याद न भी करे तो चाहत फिर भी रहती है।

Yaad Shayari || Teri Yaadon Se Yaad Shayari || Teri Yaadon Se Reviewed by Abhishek Roy on September 24, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.